लॉकडाउन होने के बाद लखनऊ के लोगों को आसानी से दूध मिल सके इसकी व्यवस्था पराग प्रबंधन ने शुरू की है। पराग प्रबंधन शुक्रवार से कैंट, सेना की सभी 25 कालोनियों समेत शहर सभी प्रमुख मोहल्लों में अपने वाहनों और ई-रिक्शा से लोगों के दरवाजे तक दूध पहुंचाएगा।
दुग्ध संघ लखनऊ के महाप्रबंधक मृत्युंजय सिंह ने बताया कि शुक्रवार से पराग ने ऐशबाग, खदरा, डालीगंज, सहादतगंज, चारबाग, राजेन्द्र नगर, गनेशगंज, निलमथा के आसपास, अमेठी, मोहनलालगंज समेत कैंटोनमेंट और सेना की सभी 25 कालोनियों में डोर-टू-डोर सप्लाई की व्यवस्था की है। महाप्रबंधक ने बताया कि इसके साथ ही शहर की जिन कालोनियों और अपाटर्मेंट में अगर दूध मिलने में कोई परेशानी आ रही है तो वहां पर थोक सप्लाई लेने के लिए प्रभारी विपणन पार्थसारथी से उनके मोबाइल नम्बर 9415442923 पर संपर्क कर सकते हैं।

गोमतीनगर विस्तार के 25 अपार्टमेंट में पहुंचेगा दूध
गोमतीनगर विस्तार में सभी अपार्टमेंट पर पराग दूध का वाहन सुबह छह बजे से 11 बजे के बीच मौजूद रहेंगे। पराग की यह गाड़ियां हर अपार्टमेंट के गेट पर दस मिनट तक खड़ी होकर दूध बिक्री करेंगी। पराग के मीडिया प्रभारी देवेन्द्र सिंह ने बताया कि दूध बिक्री के दौरान ग्राहकों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना पड़ेगा। पराग दूध की गाड़ी लाने वाले का नम्बर 9511151076 है और गाड़ी का ड्राइवर का मोबाइल नम्बर 9044723425 है।

शहर की दूध डेरियां हुई बंद
पारा, दुबग्गा, आलमबाग, आशियाना, विजयनगर, चारबाग, ठाकुरगंज, सीतापुर रोड और कुर्सी रोड स्थित दूध मंडियों को लॉकडाउन के दौरान बंद कर दिया गया है। अब ऐसे में दूधियों के सामने दूध बेचने और लोगों तक ले जाने में परेशानी हो रही है। लखनऊ दूध डेरी एसोसिएशन के महामंत्री शौकत अली ने बताया कि प्रशासन ने इन दूधियों के लिए पास की व्यवस्था करने की मांग की गई थी। लेकिन प्रशासन ने इन्हें कोई भी पास जारी करने से इनकार कर दिया।