दक्षिणी दिल्ली के एक गांव सैदुलाजाब ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में लोगों के सामने एक मिसाल पेश की है। गांव के लोगों ने स्थानीय एडीएम को अपने गांव में बुलाकर उन्हें कोरोना वॉरियर्स के रूप में किया सम्मानित किया साथ ही गांव के प्रधान ने गांव के लोगों की ओर से उन्हें प्रधानमंत्री केयर फंड़ के लिए 11 लाख रुपए का चेक सौंपा।

गांव वालों ने 18 सफाईकर्मी, 12 पुलिसकर्मी और छह मीडियाकर्मियों को भी कोरोना वॉरियर्स के रूप में सम्मानित किया। गांव के निवासी गोकुल चंद्र यादव ने बताया कि देश महामारी के दौर से गुजर रहा है। लोगों की सेवा में लगे पुलिसकर्मी, सफाईकर्मी और स्वास्थ्यकर्मी अपनी जान दांव पर लगा रहे हैं। ऐसे में हमारे गांव ने देश के लिए आई इस मुश्किल घड़ी में अपना सहयोग देने का निर्णय लिया।

इसके बाद गांव में एक समिति बनाई गई। इस समिति ने लोगों के घरों तक जाकर प्रधानमंत्री केयर फंड में पैसा जमा करने के लिए लोगों से चंदा एकत्र किया। समिति में शामिल सुंदर लाल, सुखबीर, नरेन्द्र और सुरेन्द्र ने लगातार 15 दिन मेहनत कर 11 लाख रुपये जमा किए। यह सारा पैसा गांव के लोगों ने दिया है। लोगों ने देश के नाम पर अपनी सामर्थ्य के अनुसार दिल खोल कर पैसा दिया।

कोरोना योद्धाओं को सम्मानित भी किया: गांव सैदुलाजाब के लोगों ने पैसों का चेक देने और कोरोना योद्धाओं को सम्मानित करने के लिए अपने ही गांव में एक कार्यक्रम का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में लॉकडाउन के नियमों का पालन किया गया और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया। कार्यक्रम के दौरान एडीएम अरुण गुप्ता सहित 18 सफाईकर्मियों, 12 पुलिसकर्मियों और छह मीडियाकर्मियों को सम्मानित किया गया।